कोलगेट टूथपेस्ट के नुकसान side-effects of colgate


स्वस्थ व चमकदार दाँत हर कोई चाहता है। कोई भी पीले दाँतो को पसंद नही करता है। इसलिए हम अपने दाँतो को स्वस्थ रखने के लिए आकर्षक विज्ञापन देखकर अपने टूथपेस्ट का चुनाव कर लेते है। बिना यह जाने कि इसे बनाने में किस तरह की सामग्री का उपयोग किया जाता है। आज मै आपको बताने वाला हूं कि Colgate को बनाने में किस तरह के Ingredients का उपयोग किया जाता है।

 colgate bacho se dur rakhe
टूथपेस्ट 

हड्डियों का प्रयोग

मैं इस बात का दावा नही करता हूँ कि सच मे Colgate टूथपेस्ट को बनाम में हड्डियों का प्रयोग होता है कि नहीं। क्योंकि रिसर्च करने पर मुझे इस बारे में कोई पुख्ता सबूत नही मिले। लेकिन Rajiv Dixit जी और न्यूज़ चैनल्स और बड़े विद्वानों ने इस बात को सही ठहराया है।

लेकिन आपने कभी यह सोचा है कि कोलगेट टूथपेस्ट में हड्डियों का प्रयोग किस रूप में होता है। अपने उत्पाद में यह हड्डियों के पाउडर व तेल का इस्तेमाल करती है।

अगर यह तथ्य सच है तो कोलगेट कंपनी हमारा धर्म भ्रष्ट कर रही है। उन हड्डियों के पाउडर व तेल में गाय, बकरे, सुअर और भैस आदि जानवरो की हड्डियां होती होंगी। गाय हिंदुओ का धर्म और सुअर इस्लाम धर्म भ्रष्ट करेगी।

सोडियम लौरली सल्फ़ेट Sodium Laurly Sulphate

सोडियम लौरली सल्फ़ेट के प्रयोग के बिना कोई भी कंपनी अपने प्रोडक्ट में झाग पैदा नही कर सकती है। इसका प्रयोग साबुन, सर्फ, शेविंग क्रीम और यहाँ तक की हमारे टूथपेस्ट में भी किया जाता है। 

फ्लोराइड Fluoride

जिन लोगो ने टूथपेस्ट के Ingrediants पड़े होंगे। उन्होंने फ्लोराइड (Fluoride) के बारे में जरूर पता होगा। लेकिन कुछ लोग पढ़ने के बाद भी इसके बारे में जानने की कोशिश नही करते। मैं आपको बताना चाहूंगा कि फ्लोराइड की अधिकता से दंत फ्लोरोसिस, कंकाल फ्लोरोसिस, कैंसर तक की घातक बीमारी होने के साथ-साथ शारीरिक संबंधी समस्याएं और हड्डियों व जोड़ो को नुकसान पहुँच सकता है। 

कंकाल फ्लोरोसिस

कंकाल फ्लोरोसिस एक हड्डी रोग होता है फ्लोराइड की अधिकता से हड्डियां कठोर व कम लोचदार हो जाती है जिससे फैक्चर का खतरा बढ़ जाता है।

दंत फ्लोरोसिस

यह सीधा आपके दाँतो पर बुरा असर डालता है। यह दाँतो की ऊपरी परत को नुकसान पहुँचाता है। दाँतो पर खुरदरापन, छोटी/बारीक धारियां और धब्बे आ जाते है।

चेतावनी 


  • कोलगेट में साफ़ तौर पर लिखा हुआ है कि 6 वर्ष से कम उम्र के बच्चे बड़ो की देख रेख में ब्रश करे और केवल मटर के दाने जितना ही उपयोग करना चाहिए
  •  Do not Swallow मतलब पेस्ट को  निगलना नहीं चाहिए 
colgate bacho se dur rakhe
कोलगेट 

दाँतो को स्वस्थ रखने के घरेलू नुस्खे

पुराने समय मे जब Toothpast, Brush नही थे। तब भी लोगो के दांत साफ व स्वस्थ रहते थे। लेकिन टूथपेस्ट के आने के बाद बच्चो व बड़ो के दाँतो में समस्याएं काम होने की जगह बढ़ती जा रही है। अब कुछ आयुर्वेदिक नुस्खों के बारे में बात करेंगें। जिससे आपके दाँत मरते दम तक स्वस्थ व चमकदार रहेंगे।

  • हल्दी,नमक व सरसों के तेल को मिलाकर मंजन करें।
  • नीम की दातुन का प्रयोग करें।
  • आयुर्वेद में कई तरह की दातुन के उपयोग के बारे में बताया गया है जैसे- नीम, बाबुल, आम व अमरूद की दातुन आपके लिए फायदेमंद है।
  • और सबसे Important बात यह मुफ्त/फ्री है।
और पढ़े :- पेयजल में फ्लोराइड की अधिकता के दुष्प्रभाव 

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां